Interesting Fact about Indian Flag In Hindi – राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के रोचक तथ्य

Interesting Fact about Indian Flag In Hindi:- किसी भी देश का राष्ट्रीय ध्वज उसके राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक होता है‚ जो उस राष्ट्र की अखंडता और संप्रभुता को दर्शाता है और अलग-अलग समुदायों के लोगों को एक सूत्र में बांधने का काम करता है।

हमारे देश का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा भी भारत के राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक है और भारत में रहने वाले सभी समुदायों जैसे हिंदू, मुस्लिम, सिख ईसाई, पारसी, जैन, बौद्ध को एक सूत्र में बांधकर रखता है। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास के साथ-साथ भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का इतिहास भी जुड़ा हुआ है। तो आइए आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको तिरंगे झंडे से जुड़े हुए बहुत से रोचक तथ्यों के बारे में बताते हैं कि इतिहास में कब-कब तिरंगे के स्वरुप एवं रंग मेंं बदलाव किया गया है।

Salaam Tiranga: केसरिया, सफेद और हरे रंग से क्यों बना है
Interesting Fact about Indian Flag In Hindi

चलिये आपको अपने राष्ट्रीय ध्वज से सम्बन्धित रोचत तथ्यों के बारे बताते हैः–

Who Designed Indian Flag

हमारे तिरंगे झंडे के वर्तमान स्वरूप को आंध्र प्रदेश के मछलीपट्टनम में रहने वाले पिंगली वैंकैया ने डिजाइन किया था। पिंगली वेंकैया जी ने 30 देशों के राष्ट्रीय ध्वजों का अध्ययन करने के बाद साल 1921 में भारत के तिरंगे झंडे को डिजाइन किया।

पिंगली वेंकैया ने इस तिरंगे झंडे में चरखे की आकृति डिजाइन की थी जिसे बाद में विचार विमर्श के बाद अशोक चक्र से विस्थापित कर दिया गया। 22 जुलाई 1947 को इस झंडे को संविधान सभा द्वारा अपनाया गया।

साल 1947 में संविधान सभा की बैठक के दौरान राष्ट्रीय ध्वज चयन समिति का गठन किया गया और परिणाम स्वरूप 22 जुलाई 1947 को तिरंगे झंडे के वर्तमान स्वरूप को अपनाया गया।

Rules for hoisting the national flag ! राष्ट्रध्वज तिरंगे को फहराने के नियम

Interesting Facts About Indian Flag in hindi

1. भारत के राष्ट्रीय ध्वज को तिरंगा भी कहा जाता है क्योंकि इस ध्वज को तीन रंगों से बनाया गया है हरा, सफ़ेद और केशरीया

2. भारत के राष्ट्रीय ध्वज की चौड़ाई और लम्‍बाई का अनुपात 2:3 है और बीच में एक चक्र बना हुआ है जिसे अशोक चक्र कहा जाता है। इस चक्र में 24 डंडिया होती है।

3. संसद भवन एक मात्र ऐसा भवन है जहा पर एक साथ तीन राष्ट्रीय ध्वज को फेहराया जाता है।

4. राष्ट्रीय ध्वज हमेशा खादी, कॉटन या सिल्क का बना होना चाहिए। प्लास्टिक का झंडा बनाना गैरकानूनी है।

5. आज जो हमारे राष्ट्रीय ध्वज को आप देखते है, इसे पहली बार पंडित जवाहरलाल नेहरू ने 16 अगस्त 1947 को लाल किले पर फेहराया था।

Indian flag history in hindi

Interesting Fact about Indian Flag In Hindi
Interesting Fact about Indian Flag In Hindi

6. जब तिरंगे का किसी मृत शरीर पर डाला जाता है तो उस तिरंगे को दोवारा नहीं फहराया जाता है। उसके बाद उसे पूर्ण सम्‍मान के साथ या ताे जलाया जाता है या फिर पथ्‍‍थर बॉध कर जल में समाधि दी जाती है।

7. क्या आपको पता है, सन 2002 से पहले, भारत की आम जनता के लोग केवल गिने चुने राष्ट्रीय त्योहारों को छोड़ सार्वजनिक रूप से राष्ट्रीय ध्वज फहरा नहीं सकते थे।

7. समय के साथ साथ भारत के ध्वज को कई बात बदला गया है। पहली बार भारत के ध्वज को स्वामी विवेकानंद के शिष्या भगिनी निवेदिता ने संन 1904 में बनाया था।

8. भगिनी निवेदिता के इस ध्वज को लाल, पीले और हरे रंग की क्षैतिज पट्टियों से बनाया गया था। ऊपर की ओर केशरीया पट्टी में आठ कमल थे और नीचे की हरी पट्टी में सूरज और चाँद बनाए गए थे। बीच की पीली पट्टी पर वंदेमातरम् लिखा गया था।

9. भगिनी निवेदिता द्वारा बनाया गया इस ध्वज को 7 अगस्त 1906 को कलकत्ता के ग्रीन पार्क में कांग्रेस अधिबेशन के वक़्त फेहराया गया था।

10. द्वितीयबार भारत के ध्वज को पेरिस में मेडम कामा और उनके साथ निर्वासित किए गए कुछ क्रांतिकारियों द्वारा संन
1905 को फहराया गया था।

Amazing facts about National Flag

11. अभी आप जिस ध्वज को देखते हो, इसे 22 जुलाई 1947 को संबिधान सभा ने भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाया था।

12. उस समय हमारे ध्वज में गांधी जी का चरखा हुआ करता था, लेकिन 22 जुलाई 1947 को इस चरखे को हटा कर अशोक चक्र को सम्मिलित किया गया। नीचे आप उस ध्वज का एक चित्र देख सकते हो..

13. विंग कमांडर राकेश शर्मा ने संन 1984 में भारत के राष्‍ट्रीय ध्‍वज को पहलीबार अंतरिक्ष में  फेहराया था।

Indian flag knowledge in hindi

14. उस समय इस ध्वज को स्वराज ध्वज  कहा जाता था जिसे आधिकारिक तौर पर 1931 में कांग्रेस द्वारा अपनाया गया था।

14. भारतीय कानून के अनुसार ध्वज को हमेशा ‘गरिमा, निष्ठा और सम्मान’ के साथ देखना चाहिए। सरकारी नियमों में कहा गया है कि झंडे का स्पर्श कभी भी जमीन या पानी के साथ नहीं होना चाहिए।

15. राँची में 493 मीटर की ऊँचाई पर देश का सबसे ऊँचा झंडा फहराया जाता है। यह तिरंगा 66 फुट उंचा 99 फुट चौड़ा है।

16. राँची का पहाड़ी मंदिर भारत का एक अकेला ऐसा मंदिर है जहाँ पर राष्ट्रीय ध्वज को फेहराया जाता है।

Top 99+ Happy Independence Day Shayari In Hindi 2021

17. वर्तमान समय में, हुबली में स्थित कर्नाटक खादी ग्रामोद्योग संयुक्त संघ को ही एक मात्र लाइसेंस प्राप्त है जो झंडा उत्पादन और आपूर्ति करता है।

18. भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज सबसे पहले सबसे ऊॅचाई पर 29 मई 1953 को माउंट एवरेस्ट की चोटी पर शेरपा तेनजिंग (Sherpa Tenzing) और एडमंड माउंट हिलेरी (Mount Edmund Hillary) द्वारा फहराया गया था।

19. जब झंडा किसी बंद कमरे में, सार्वजनिक बैठकों में या किसी भी प्रकार के सम्मेलनों में, प्रदर्शित किया जाता है तो दाईं ओर (प्रेक्षकों के बाईं ओर) रखा जाना चाहिए क्योंकि यह स्थान अधिकारिक होता।

20. किसी भी दूसरे ध्वज को आप राष्ट्रीय ध्वज के ऊपर या फिर बराबर नही फ़हरा सकते, ऐसा कर ग़ैरकानूनी माना जाता है।

21. संन 2009 से पहले राष्ट्रीय ध्वज को रात में फहराने की अनुमति नही थी।

Indian flag colour meaning in hindi

भारतीय झंडा पहले 2 रंगों (केसरिया और हरा) का था. केसरिया रंग हिंदू और हरा रंग मुस्लिम समुदाय का प्रतीक था। इसमें बीच में चरखा था, जो स्वदेशी कपड़े का प्रतीक था। बाद में गांधी जी के कहने पर बाकी धर्मों के लिए इसमें सफेद रंग जोड़ा गया। इस झंडे की व्याख्या गांधी जी ने इस तरह की थी- केसरिया रंग लोगों के बलिदान के लिए, सफेद रंग पवित्रता के लिए और हरा रंग उम्मीद के लिए।

Meaning of ashok chakra in indian flag

आजादी के बाद प्रधानमंत्री पंडित नेहरू के कहने पर झंडे के बीच में चरखे की जगह नीले रंग का अशोक चक्र रखा गया। इसमें 24 तीलियां हैं, जो 24 घंटे विकास और रफ्तार की प्रतीक हैं। नीला रंग खुले आसमान की विशालता और पानी की गहराई दर्शाता है।

Ashok chakra meaning in hindi

राष्ट्रीय ध्वज की सभी 24 तिलीयाँ जीवन को दर्शाती है अर्थात् धर्म जो इस प्रकार है: प्रेम, बहादुरी, धैर्य, शांति, उदारता, अच्छाई, भरोसा, सौम्यता, नि:स्वार्थ भाव, आत्म-नियंत्रण, आत्म बलिदान, सच्चाई, नेकी, न्याय, दया, आकर्षणशीलता, नम्रता, हमदर्दी, संवेदना, धार्मिक ज्ञान, नैतिक मूल्य, धार्मिक समझ, भगवान का डर और भरोसा (भरोसा या उम्मीद)।

आपका सहयोग- 

दोस्‍तों मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल Interesting Fact about Indian Flag In Hindi जरूर पसंद आया होगा। यदि आपको यह संग्रह पसंद आया है तो कृपया राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के रोचक तथ्य से सम्बंधित इस पोस्ट को अपने मित्र और परिवारजनों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करे।

हमें आशा है कि ये Amazing facts about National Flag से सम्बंधित हमारा पोस्टआपको पसन्‍द आये होगें। इसके अलावा अगर आपने अभी तक हमें सोशल मीडिया जैसे instagram और facebook पर फॉलो नहीं किया है तो जल्द ही कर लीजिये।

1 thought on “Interesting Fact about Indian Flag In Hindi – राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के रोचक तथ्य”

Leave a Comment

%d bloggers like this: